इन आसनों से कम कर सकते कमर पर जमा फैट, पढ़ें ये ख़ास रिपोर्ट

: बढ़ती आधुनिकताओं के बीच हैल्थी लाइफस्टाइल कहीं गायब सा होते जा रहा है। यही वजह है की की बड़ा क्या बच्चा सभी मोटापे के शिकार हो रहे है। चर्बी वैसे

इन आसनों  से कम कर सकते कमर पर जमा फैट, पढ़ें ये ख़ास रिपोर्ट
NBC24 DESK: बढ़ती आधुनिकताओं के बीच हैल्थी लाइफस्टाइल कहीं गायब सा होते जा रहा है। यही वजह है की की बड़ा क्या बच्चा सभी मोटापे के शिकार हो रहे है। चर्बी वैसे तो बिलकुल भी अच्छी नहीं होती पर सबसे खराब कमर के पास जमी चर्बी। पेट और कमर के आसपास जमा चर्बी न सिर्फ पर्सनालिटी को खराब करके व्यक्ति का आत्मविश्वास कमजोर करती है बल्कि सेहत के लिए भी कई तरह के खतरे उत्पन्न कर सकती है। कमर पर जमा इस थुलथुली चर्बी को पिछलाने के लिए व्यक्ति को कड़ी मश्क्कत करनी पड़ी है। पेट पर जमा चर्बी खराब लाइफस्टाइल, पूरे दिन बैठकर काम करने, वर्कआउट की कमी, अनहेल्‍दी फूड हैबिट्स और तनाव का नतीजा है। जो आगे चलकर कई गंभीर रोगों को जन्म दे सकता है। आज अपने इस ख़ास रिपोर्ट में आपको कमर का फैट कम करने कौन कौन से योगासन करें। भुजंगासन भुजंगासन फन उठाए हुए सांप की भांति प्रतीत होता है, इसलिए इस आसन का नाम भुजंगासन है। यह आसन मुख्य रूप से आपके पेट की मसल्‍स को मजबूत करने और आपकी पीठ के निचले हिस्से को आराम देने का काम करता है। ये हमारी रीढ़ की हड्डी को लचीला बनाकर हमारे पाचन और प्रजनन तंत्र को भी मजबूत बनाता है। इसके अलावा, ये आसन हमारे चक्रों को भी खोलने में अहम भूमिका निभाता है। धनुरासन धनुरासन पीठ के साथ-साथ पेट की मांसपेशियों को भी मजबूत बनाने में मदद करता है। यह आसन एक बेहतरीन स्ट्रेस बस्टर है। यह आपकी पीठ के लचीलेपन को बढ़ाता है साथ ही कमर के दर्द को कम करने में मदद करता है। चक्की चलानासन पेट की चर्बी कम करने के लिए चक्की चलन आसन बहुत कारगर उपाय है। इसके अलावा इस आसन को करने से पीठ, पेट और बाजुओं की मसल्‍स की अच्‍छी एक्‍सरसाइज हो जाती है और चेस्‍ट और पेल्विक एरिया में स्‍ट्रेच आता है। यह आपकी रीढ़ को कोमल और लचीला बनाए रखने में भी मदद करता है। उष्ट्रासन  उष्ट्रासन थोड़ी कठिन मुद्रा है। इस योगासन को तभी करें जब आपको पीठ से जुड़ी कोई समस्या न हों। उष्ट्रासन के अभ्यास से सीने और पेट के निचले हिस्से से अतिरिक्त चर्बी कम होती है। ये कमर और कंधों को मजबूत बनाता है। ये कमर के निचले हिस्से में दर्द कम करने में मदद करता है।