"Gangubai Kathiawadi" को मिली सुप्रीम कोर्ट से राहत, रिलीज को मिली हरी झंडी

बॉलीवुड डायेरक्टर संजय लीला भंसाली की फिल्म 'गंगूबाई काठियावाड़ी' इस समय काफी चर्चा में हैं। बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने फिल्म का नाम बदलने का सुझाव दिया था।

"Gangubai Kathiawadi" को मिली सुप्रीम कोर्ट से राहत, रिलीज को मिली हरी झंडी

NBC24 DESK: बॉलीवुड डायेरक्टर संजय लीला भंसाली की फिल्म 'गंगूबाई काठियावाड़ी' इस समय काफी चर्चा में हैं। बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने फिल्म का नाम बदलने का सुझाव दिया था। जबकि आज 25 फरवरी को फिल्म रिलीज होने वाली है। इसी बीच फिल्म के निर्माता के लिए एक राहत भरी खबर आई है। बता दें सुप्रीम कोर्ट ने फिल्म की रिलीज पर रोक लगाने वाली याचिका को खारिज कर दिया है। इस तरह से संजय लीला भंसाली को जन्मदिन पर बड़ा तोहफा मिल गया है।

फिल्म 'गंगूबाई काठियावाड़ी' की रिलीज को जस्टिस इंदिरा बनर्जी और जस्टिस जेके महेश्वरी की पीठ ने हरी झंडी दिखा दी है। सुप्रीम कोर्ट गूबाई का दत्तक पुत्र बताने वाले याचिकाकर्ता बाबू रावजी शाह की याचिका खारिज कर दी। बाबू रावजी शाह का कहना था कि फिल्म में उनकी मां को वेश्या दिखाया गया है जबकि वह समाजसेविका थीं।

सुप्रीम कोर्ट में भंसाली प्रोडक्शन के वकील अर्यमा सुंदरम ने दलील दी कि याचिकाकर्ता ने अभी तक फिल्म भी नहीं देखी है। फिल्म में गंगूबाई की छवि का अपमान नहीं किया गया है। वकील ने फिल्म का नाम न बदलने पर कहा कि नाम बदलना संभव नहीं है। फिल्म को सेंसर सर्टिफिकेट मिल चुका है और नाम पहले ही प्रकाशित हो चुका है। पूरे देश में इसका विज्ञापन भी हो चुका है।

बताते चलें कि सुप्रीम कोर्ट ने फिल्म का नाम बदलने का सुझाव इसलिए दिया क्योंकि फिल्म पर रोक लगाने को लेकर कई अदालतों में कई मुकदमे काफी समय से लंबित थे। सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान संजय लीला भंसाली से पूछा गया कि क्या फिल्म का नाम बदला जा सकता है? इस पर निर्माता ने कहा था कि आखिरी मौके पर नाम बदलना संभव नहीं है।

आपको बता दें फिल्म 'गंगूबाई काठियावाड़ी' शुक्रवार 25 फरवरी को सिनेमाघरों में रिलीज होने के लिए तैयार है। फिल्म में आलिया भट्ट, अजय देवगन, विजय राज, सीमा पाहवा, शांतुन महेश्वरी, हुमा कुरैशी और जिम सारभ भी महत्वपूर्ण में हैं।